धन्वंतरि आरती लिरिक्स | Dhanvantari aarti lyrics | Dhanteras

1087
Dhanvantari aarti lyrics

Dhanvantari aarti lyrics धन्वंतरी आरती को शांत मन के साथ, अपने आप को प्रभु के चरणों में समर्पित करते हुए पढ़ने से निश्चित ही धन धान्य की प्राप्ति, कीर्ति में बढ़ोतरी होती है तथा सारे कष्ट दूर हो जाते हैं | धन्वंतरी को भगवान विष्णु के अवतार माना जाता हे । प्रचीन ग्रंथों के अनुसार इन्होंने धरती पर समुद्र मंथन के समय अवतार लिया था। भगवान धन्‍वंतरि आयुर्वेद के जन्मदाता हैं

Singer:Dr. Satyakam Nagar
Chorus:Vibhuti Sharma and Vasundhara Sharma
Music:Roshan Presents
Directed By:Sri Sudhir Joshi and Dr. Satyakam Nagar
Genre:Aarti

धन्वंतरि आरती लिरिक्स – Dhanvantari aarti lyrics in Hindi

जय धन्वंतरि देवा, ॐ जय धन्वंतरि देवा
स्वामी जय धन्वंतरि देवा
जरा-रोग से पीड़ित, जन-जन सुख देवा
कोरस: ॐ जय धन्वंतरि देवा II १ II

तुम समुद्र से निकले, अमृत कलश लिए
स्वामी अमृत कलश लिए
देवासुर के संकट आकर दूर किए
कोरस: ॐ जय धन्वंतरि देवा II २ II

आयुर्वेद बनाया, जग में फैलाया
स्वामी जग में फैलाया
सदा स्वस्थ रहने का, साधन बतलाया
कोरस: ॐ जय धन्वंतरि देवा II ३ II

भुजा चार अति सुंदर, शंख सुधा धारी
स्वामी शंख सुधा धारी
आयुर्वेद वनस्पति से शोभा भारी
कोरस: ॐ जय धन्वंतरि देवा II ४ II

तुम को जो नित ध्यावे, रोग नहीं आवे
स्वामी रोग नहीं आवे
असाध्य रोग भी उसका, निश्चय मिट जावे
कोरस: ॐ जय धन्वंतरि देवा II ५ II

हाथ जोड़कर प्रभुजी, दास खड़ा तेरा
स्वामी दास खड़ा तेरा
वैद्य-समाज तुम्हारे चरणों का घेरा
कोरस: ॐ जय धन्वंतरि देवा II ६ II

धन्वंतरि की आरती जो कोई नर गावे
स्वामी प्रेम सहित गावे
रोग-शोक न आए, सुख-समृद्धि पावे
कोरस: ॐ जय धन्वंतरि देवा II ७ II

जय धन्वंतरि देवा, ॐ जय धन्वंतरि देवा
स्वामी जय धन्वंतरि देवा
जरा-रोग से पीड़ित, जन-जन सुख देवा
कोरस: ॐ जय धन्वंतरि देवा

Dhanvantari aarti lyrics in English – धन्वंतरि आरती लिरिक्स

Jay Dhanvantri Deva ॐ Jay Dhanvantri Deva
Swami Jay Dhanvantri Deva
Jaraa-Rog Se Peedit, Jan Jan Sukh Deva
Chorus: ॐ Jay Dhanvantri Deva II 1 II

Tum Samudra Se Nikale, Amrut Kalash Lie
Swami Amrut Kalash Lie
Devasur Ke Sankat Aakar Door Kie
Chorus: ॐ Jay Dhanvantri Deva II 2 II

Ayurved Banayaa Jag Me Phailayaa
Swami Jag Me Phailayaa
Sada Swastha Rahane Ka Sadhan Batlayaa
Chorus: ॐ Jay Dhanvantri Deva II 3 II

Bhujaa Chaar Ati Sundar Shankh Sudha Dhaari
Swami Shankh Sudha Dhaari
Ayurved Vanaspati Se Shobha Bhaari
Chorus: ॐ Jay Dhanvantri Deva II 4 II

Tum Ko Jo Nit Dhyaave Rog Nahi Aave
Swami Rog Nahi Aave
Asaadhya Rog Bhi Usaka Nischay Mit Jaave
Chorus: ॐ Jay Dhanvantri Deva II 5 II

Haath Jodkar Prabhuji Das Khadaa Tera
Swami Das Khadaa Tera
Vaidya-Samaj Tumhare Charanonka Gheraa
Chorus: ॐ Jay Dhanvantri Deva II 6 II

Dhanvantri Ki Aarti Jo Koi Nar Gaave
Swami Prem Sahit Gaave
Rog Shok Na Aae Sukh Samruddhi Paave
Chorus: ॐ Jay Dhanvantri Deva II 7 II

Jay Dhanvantri Deva ॐ Jay Dhanvantri Deva
Swami Jay Dhanvantri Deva
Jaraa-Rog Se Peedit, Jan Jan Sukh Deva
Chorus: ॐ Jay Dhanvantri Deva

धन्वंतरी आरती करने से क्या लाभ मिलते है?

  • धन्वंतरी आरती को करने से शारीरिक और मानसिक कष्ट दूर होते है |
  • इस आरती से भगवान धन्वंतरी का आर्शीवाद हमेशा आप पर बना रहता है |
  • धन्वंतरी आरती से आपके जीवन की सभी समस्याओं का अंत होता है।
  • इस आरती से भक्त को मन की शांति मिलती है और वह व्यक्ति सभी बुराइयों और बुरे विचारों से दूर रहता है।

धन्वंतरि भगवान के मंत्र

ॐ धन्वंतराये नमः॥
आरोग्य प्राप्ति हेतु मंत्र:
ॐ नमो भगवते महासुदर्शनाय वासुदेवाय धन्वंतराये:
अमृतकलश हस्ताय सर्व भयविनाशाय सर्व रोगनिवारणाय
त्रिलोकपथाय त्रिलोकनाथाय श्री महाविष्णुस्वरूप
श्री धनवंतरी स्वरूप श्री श्री श्री औषधचक्र नारायणाय नमः॥

भगवान धन्वन्तरि जी की आरती || Dhanateras Special || Dhanvantari Ji ki Aarati

भगवान धन्‍वंतरि का जन्‍म तेरस तिथि में होने के कारण इस दिन को धन-तेरस कहा जाता है | इस दिन धन्‍वंतरि की पूजा अर्चना की जाती है |

धन्वंतरि आरती लिरिक्स

  • गायक: डॉ. सत्यकाम नागर
  • सहगान: विभूति शर्मा और वसुन्धरा शर्मा
  • संगीत: रोशन प्रस्तुत करता है
  • निर्देशक: श्री सुधीर जोशी और डॉ. सत्यकाम नागर
  • शैली: आरती

अंतिम बात :

दोस्तों कमेंट के माध्यम से यह बताएं कि “Dhanvantari aarti lyrics” वाला यह आर्टिकल आपको कैसा लगा | आप सभी से निवेदन हे की अगर आपको हमारी पोस्ट के माध्यम से सही जानकारी मिले तो अपने जीवन में आवशयक बदलाव जरूर करे फिर भी अगर कुछ क्षति दिखे तो हमारे लिए छोड़ दे और हमे कमेंट करके जरूर बताइए ताकि हम आवश्यक बदलाव कर सके | 

हमे उम्मीद हे की भक्तों यह धन्वंतरि आरती आर्टिक्ल पसंद आया होगा | आपका एक शेयर हमें आपके लिए नए आर्टिकल लाने के लिए प्रेरित करता है | ऐसी ही कहानी के बारेमे जानने के लिए हमारे साथ जुड़े रहे धन्यवाद ! 🙏