Ya Kundendu Tushar Har Dhavala Meaning – या कुन्देन्दु तुषारहार हिंदी अर्थ

15599
Ya Kundendu Tushar Har Dhavala Meaning - या कुन्देन्दु तुषारहार धवला हिंदी अर्थ

Ya Kundendu Tushar Har Dhavala Meaning : माता सरस्वती हिन्दू धर्म में ज्ञान, विद्या, कला तथा बुद्धिमत्ता की देवी मानी जाती है। संगीत के क्षेत्र में भी माँ सरस्वती जी को ही पूजा जाता है। ज्ञान और विद्या की देवी माता सरस्वती की पूजा में श्रद्धा के साथ श्री सरस्वती स्तोत्र का पाठ करना लाभदायक माना जाता है। ज्ञान और अज्ञानता को दूर करने के यह स्तोत्र अत्यंत आवशयक हे ।

Ya Kundendu Tushar Har Dhavala Stotram Details:

याजो (देवी सरस्वती)
कुन्दएक श्वेत रंग का सुंदर पुष्प
इन्दुचन्द्र
तुषारहिम, ओसकण
हारमाला
धवलाश्वेत, उज्जवल
शुभ्रसफेद
वस्त्रावृतावस्त्र धारण किये हुए
वीणाएक प्रकार का वाद्य
वरश्रेष्ठ, सुंदर
दण्डवीणा के गोल भाग पर लगा सीधा दंडवाला भाग
मंडितअलंकृत, सुशोभित
कराकर, हाथ में
श्वेतसफेद, शुभ्र
पद्मासनाकमल रूपी आसन पर विराजित
ब्रह्मासृष्टिकर्त्ता भगवान ब्रह्मा
अच्युतभगवान विष्णु
शंकरकल्याणकारी भगवान शिव
प्रभृतिभिःतेजस्वी
देवै:देवों ने
सदाहमेशा नित्य प्रति
वन्दितावंदन किया
सावह (देवी)
माम्मेरी
पातुरक्षा करें
सरस्वतीविद्या तथा बुद्धि की देवी।
भगवतीदेवी
निःशेषसमूल, सम्पूर्णतः
जाड्यजड़ता, अज्ञान
अपहादूर करने वाली

सरस्वती वंदना – या कुन्देन्दु तुषारहार धवला हिंदी अर्थ सहित | Ya Kundendu Tushar Har Dhavala

या कुन्देन्दु तुषारहार धवला या शुभ्रवस्त्रावृता।
या वीणावर दण्डमण्डितकरा या श्वेतपद्मासना॥
या ब्रह्माच्युतशंकर प्रभृतिभिर्देंवै: सदा वन्दिता।
सा मां पातु सरस्वती भगवती निःशेषजाड्यापहा॥

हिंदी में अर्थ : माँ भगवती सरस्वती जो विद्या तथा ज्ञान की देवी है, कुन्द के फूल, चंद्रमा, हिमराशि और मोती के हार की तरह धवल वर्ण की हैं तथा जो हमेशा श्वेत वस्त्र धारण करती हैं, एवं इनके हाथ में वीणा-दण्ड शोभायमान रहती है, जो श्वेत कमल पर विराजमान है जिसकी स्तुति सदा ब्रह्मा विष्णु और महेश द्वारा की जाती है. वह परमेश्वरी समस्त दुर्मति को दूर करने वाली माँ सरस्वती मेरी रक्षा करें.

  • या कुन्देन्दु तुषारहार धवला या शुभ्रवस्त्रावृता: मैं सरस्वती माँ को प्रणाम करता हूँ जो चमेली, चाँद और मोतियों की माला की तरह इतनी शुद्ध और सफेद हैं; वह वही है जो जगमगाते सफेद वस्त्रों से सुशोभित है।
  • या वीणावर दण्डमण्डितकरा या श्वेतपद्मासना: जिनके हाथ वीणा और वरदान देने वाले कर्मचारियों से सुशोभित हैं; जो शुद्ध सफेद कमल पर विराजमान है
  • या ब्रह्माच्युतशंकर प्रभृतिभिर्देंवै: सदा वन्दिता: जिनकी हमेशा ब्रह्मा (निर्माता), अच्युत (विष्णु या रक्षक), शंकर (शिव या विध्वंसक) और सभी देवों (देवताओं) द्वारा पूजा की जाती है।
  • सा मां पातु सरस्वती भगवती निःशेषजाड्यापहा: हमारी प्रार्थना है कि हे देवी सरस्वती, मेरी रक्षा करो और मेरी सारी अज्ञानता को दूर करो

Ya Kundendu Tushar Har Dhavala Meaning in English – या कुन्देन्दु तुषारहार धवला अर्थ

Ya Kundendu Tusharahara Dhavala Ya Shubhra Vastravruta
Ya Veena Varadanda Manditakara Ya ShwetPadmasana
Ya Brahmachyut Shankara Prabhritibihi Devai Sada Vandita
Sa Mam Pattu Saraswati Bhagwati Nihshesh Jadyapaha ||

Meaning in English: Who is pure white like jasmine, with the coolness of the moon, that shines like a garland of snow and pearls; And who is covered with pure white robes,(Salutations to Goddess Saraswati) Whose hands are adorned with veenas and boons; And who sits on a pure white lotus, One who is always the adoration of Lord Brahma, Lord Vishnu, Lord Shankar and other deities, O Goddess Saraswati, please protect me and remove my ignorance completely.

  • Ya Kundendu Tushar Har Dhavala Ya Shubhravastravrita: She is the one who is wearing the beautiful white jasmine flower garland.
  • She is the one who always dresses in spotless clothes.
  • Ya Veena Varadanda Manditakara Ya ShwetPadmasana: She is the one holding a Veena, which she is playing.She is the one who sits on the white lotus throne.
  • Ya Brahmachyut Shankara Prabhritibihi Devai Sada Vandita: She is worshipped by Gods such as Brahma, Vishnu, and Shiva.
  • Sa Mam Pattu Saraswati Bhagwati Nihshesh Jadyapaha: Please look after me, Goddess Saraswathi, who eliminates ignorance.

आशासु राशीभवदंगवल्ली
भासैव दासीकृतदुग्धसिन्धुम्
मन्दस्मितैर्निन्दितशारदेन्दुं
वन्देSरविन्दासनसुन्दरि त्वाम्

हिंदी में अर्थ : जिनके शरीर की कांति समस्त दिशाओं में बिखरती है, अपनी छवि से जिसने शिव सागर को भी अपना दास बना लिया है. मंद मुस्कान से जिसने शरद ऋतु के चंद्रमा को भी फीका कर दिया है. ऐसी श्वेत कमल के आसन पर विराजमान हे सुंदरी सरस्वती मैं आप की वंदना करता हूं.

शारदा शारदाम्भोजवदना वदनाम्बुजे
सर्वदा सर्वदास्माकं सन्निधिं क्रियात् 

हिंदी में अर्थ : शरद ऋतु के कमल के समान मुख वाली परमेश्वरी शारदा देवी मेरे मुखमंडल मैं हमेशा हमेशा निवास करें.

सरस्वतीं च तां नौमि वागधिष्ठातृदेवताम्
देवत्वं प्रतिपद्यन्ते यदनुग्रहतो जना:

हिंदी में अर्थ : वाणी की देवी मां सरस्वती को मैं नमस्कार करता हूं जिनकी मात्र कृपा से मनुष्य भी देवता बन जाते हैं.

पातु नो निकषग्रावा मतिहेम्न: सरस्वती
प्राज्ञेतरपरिच्छेदं वचसैव करोति या

हिंदी में अर्थ : वह सरस्वती जो विशाल बुद्धि रूपी सोने की कसौटी है और जो वाणी से ही बुद्धिमान और मूर्ख का अंतर प्रकट कर देती है.

शुक्लां ब्रह्मविचारसारपरमामाद्यां जगद्व्यापिनीं
वीणापुस्तकधारिणीमभयदां जाड्यान्धकारापहाम्
हस्ते स्फाटिकमालिकां च दधतीं पद्मासने संस्थितां
वन्दे तां परमेश्वरीं भगवतीं बुद्धिप्रदां शारदाम्

हिंदी में अर्थ : शुक्लवर्ण वाली,संपूर्ण चराचर जगत्‌ में व्याप्त, आदिशक्ति, परब्रह्म के विषय में किए गए विचार एवं चिंतन के सार रूप परम उत्कर्ष को धारण करने वाली, सभी भयों से भयदान देने वाली, अज्ञान के अंधेरे को मिटाने वाली, हाथों में वीणा, पुस्तक और स्फटिक की माला धारण करने वाली और पद्मासन पर विराजमान्‌ बुद्धि प्रदान करने वाली, सर्वोच्च ऐश्वर्य से अलंकृत, भगवती शारदा (सरस्वती देवी) की मैं वंदना करता हूं |

वीणाधरे विपुलमंगलदानशीले
भक्तार्तिनाशिनि विरण्चिहरीशवन्द्ये।
कीर्तिप्रदेSखिलमनोरथदे महार्हे
विद्याप्रदायिनि सरस्वति नौमि नित्यम्

हिंदी में अर्थ : वीणा धारण करने वाली समस्त मंगल के दान में निपुण, भक्तों की पीड़ा को दूर करने वाली तथा ब्रह्मा विष्णु शिव द्वारा वंदनीय कीर्ति एवं समस्त मनोरथ को प्रदान कर बहुमूल्य विद्या प्रदान करने वाली, भगवती माँ सरस्वती देवी के चरणों की वंदना करता हूं.

યા કુંદેંદુ તુષાર હાર ધવળા – Ya Kundendu Tushar Har Dhavala Gujarati

યા કુન્દેન્દુ તુષાર-હાર ધવલા, યા શુભ્ર, વસ્ત્રામ્વૃતા।
યા વીણા-વર-દંડ-મંડિત કરા,યા શ્વેત પદ્માસના॥
યા બ્રહ્માચ્યુત શંકર પ્રભુતિભિમિ,દેવૈ:સદા વંદિતા।
સા માસ્ પાતુ સરસ્વતી ભગવતી, નિ:શેષ જાડ્યાપહા॥

અર્થ: ભગવતી જે સફેદ કમળ પર બિરાજમાન, ગળામાં ફુલહાર છે. સફેદ કપડા ધારણ કરેલ છે, હાથમાં વીણા શોભાયમાન છે. જેને બ્રહ્માજીની બાજુમાં સ્થાન ગ્રહણ કરેલ છે. જેમની ભગવાન વિષ્ણુ અને શંકર હંમેશા પૂજા કરે છે. જે તમામ જડતા અને અજ્ઞાનતાને દૂર કરે છે, એવા દેવી સરસ્વતી અમને રક્ષણ આપો.

माँ सरस्वती वंदना – या कुन्देन्दु तुषार हार धवला – Ya Kundendu Tushar Har Dhavala

▶︎ See music video of Ya Kundendu Tushar Har Dhavala YouTube channel for your reference and song details.

Slokas Name:Ya Kundendu Tushar Har Dhavala
SingerRavindra Jain and Chorus
GenreMantra
LyricsUnknown

निष्कर्ष

दोस्त! अगर आपको “Ya Kundendu Tushar Har Dhavala Meaning” वाला यह आर्टिकल पसंद है तो कृपया इसे अपने दोस्तों को सोशल मीडिया पर शेयर करना न भूलें। आपका एक शेयर हमें आपके लिए नए गाने के बोल लाने के लिए प्रेरित करता है

हमे उम्मीद हे की देवी सरस्वती के भक्तों यह या कुन्देन्दु तुषारहार धवला हिंदी अर्थ सहित पसंद आया होगा | अगर कुछ क्षति दिखे तो हमारे लिए छोड़ दे और हमे कमेंट करके जरूर बताइए ताकि हम आवश्यक बदलाव कर सके |

अगर आप अपने किसी पसंदीदा गाने के बोल चाहते हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर हमें बेझिझक बताएं हम आपकी ख्वाइस पूरी करने की कोशिष करेंगे धन्यवाद!