Breaking

मंगलवार, 19 अक्तूबर 2021

CBC टेस्ट की पूरी जानकारी हिंदी में | Complete Blood Count - CBC Report

 CBC Test क्यों करवाया जाता है? CBC test क्या है



हर डॉक्टर किसी भी सामान्य बीमारी का इलाज करने के लिए CBC Test करवाने की सलाह अवश्य देते है जिससे की वह उस रोग को पहचान कर कम करने के लिए सही तरह की दवाई मरीज को दे सके. पूरी दुनिया में यह टेस्ट सबसे ज्यादा किया जाता है तो आइये  जानते है CBC Test in Hindi क्या है?

CBC टेस्ट क्या होता है? – CBC Test in Hindi language 

CBC की full form हे (Complete Blood Count), जिसके माध्यम से हम जान सकते हैं कि हमारी रक्त कोशिकाओं की गिनती में वृद्धि हुई है या कमी हुई है या सामान्य है वह जान सकते हे 

Complete Blood Count Test में गणना उम्र और लिंग यानि (Male /Female )के आधार पर अलग अलग होती है इसी वजह से आपसे उम्र और लिंग पूछा जाता है जिससे कि आपके टेस्ट में सामान्य गणना को आप की टेस्ट की गयी गणना से compare किया जा सके.male और female के हिसाब से rang अलग अलग होती हे 

CBC Test का इस्तेमाल ज्यादातर एनीमिया, आम संक्रमण,बुखार,चानक वजन घटने, खून की कमी, पॉलिसाइथिमिया, इंफेक्शन, रक्त विकार, सर्जरी से पहले, किसी हिस्से में रक्तस्त्राव होने के अलावा कुछ विशेष कैंसर जैसे कई स्वास्थ्य समस्याओं का पता लगाने के लिए किया जाता है.

CBC यानि Complete Blood Count Test हमारे शरीर में तीन तरह की गणना करता है जो कि बहुत ही महत्वपूर्ण होती है
Complete Blood Count - CBC Report

लाल रक्त कोशिकाएं ( Red Blood Count )

लाल रक्त कोशिकाएं यानी RBC जो कि हमारे शरीर में ऑक्सीजन ले जाने का कार्य करती है और कार्बन डाइऑक्साइड को हटाती है.

इसके बारे में CBC ( Complete Blood Count ) टेस्ट के माध्यम से पता किया जा सकता है कि हमारे शरीर में कितनी RBC यानी की ( Red Blood Count ) संख्या है.

सफेद रक्त कोशिकाएं ( White Blood Count )

श्वेत रक्त कोशिका यानी वाइट ब्लड सेल या WBC हमारे शरीर में संक्रमण को रोकने और उनसे लड़ने की क्षमता को निर्धारित करता है. CBC ( Complete Blood Count ) टेस्ट के माध्यम से हम हमारे शरीर में कितनी WBC यानि ( White Blood Count ) है इसके बारे में जान सकते हैं.

इसकी संख्या में असामान्य वृद्धि होने की वजह से सूजन और कई तरह की बीमारियां हो सकती है अगर इनकी संख्या घट जाती है तो हमें संक्रमण जैसे रोग हो जाते हैं.

प्लेटलेट्स (platelet count)

प्लेटलेट्स का सबसे महत्वपूर्ण कार्य होता है कि Blood Clot और ब्लीडिंग को control करना. जैसे मान लो अगर आप को चोट लग जाती है तो बहते हुए खून को बंद करने के लिए platelet count  कार्य करते हैं.

अगर इनकी संख्या घट जाती है या बढ़ जाती है तो हमें कई तरह की समस्याएं हो सकती है और इसका इलाज तुरंत करवाना जरूरी होता है. CBC के माध्यम से हम प्लेटलेट्स के बारे में जान सकते हैं

CBC Result से खून में कौन कौन सी चीजों का पता चल सकता है?

इस टेस्ट की मदद से हमें कई तरह की बीमारियों का पता लगाया जा सकता है. लेकिन अब हम आपको बताएँगे की  CBC Result में हमने खून के कौन कौन घटकों के बारे में पता लगता है और इनकी Normal Value या range क्या होती है.

White Blood Cell (WBC) यानी सफेद रक्त कणिकाएं  – हमारे खून में WBC पाया जाता है जो संक्रमण से लड़ने में मदद करते है. अगर खून में WBC Count अगर ज्यादा हो जाए तो शरीर में सूजन (inflammation) या संक्रमण (infection) जैसे लक्षण हमे दिख जाते सकते है और अगर इसकी Value कम हो जाती है कई तरह की बीमारियों के लगने का खतरा बढ़ जाता है. WBC के पांच Type होते है-

बेसोफिल (basophils)
न्यूट्रोफिल (neutrophils)
ईोसिनोफिल (eosinophils)
लिम्फोसाइट्स (lymphocytes)
मोनोसाइट्स (monocytes).

Red Blood Cell यानी लाल रक्त कणिकाएं (RBC) – इस टेस्ट की मदद से RBC Count की rang का पता लगाया जाता है. लाल रक्त कणिकाएं हमारे शरीर में ऑक्सीजन ले जाने और कार्बन डाईऑक्सइड को फ़िल्टर करने में मदद करता है

हिमोग्लोबिन (Hb or Hemoglobin) – इस टेस्ट की मदद से खून में Hemoglobin की rang का पता लगाया जा सकता है. मानव शरीर में Hemoglobin की normal range पुरुषों  में 14-17 ग्राम प्रति डेसीलिटर और महिलाओं में यह 12-15 ग्राम प्रति डेसीलीटर (gm/dL) होता है.

HCT (Hematocrit) – यह RBC का ratio होता है जिसकी स्केल रेंज कम होने पर Iron की कमी को दर्शाता है. इसकी Scale Range ज्यादा होने पर आपको dehydrated और अन्य समस्या पैदा हो जाती है.

प्लेटलेट्स संख्या (Platelets Count) – यह खून में रक्त का थक्का ज़माने में मदद करता है. CBC Test की मदद से खून में Platelets Count का पता लगाया जा सकता है.

MCV (Mean Corpuscular Volume) – यह RBC के आकार को दर्शाता है. अगर RBC Normal Width से बड़ी हो जाती है तो MCV की value बढ़ जाती है. इसकी वैल्यू बढ़ने पर Vitamin B12 कम हो जाती है.

अगर RBC की Normal Width कम होने पर Anemia की और संकेत करता है.

MCH (Mean Corpuscular Hemoglobin) – यह एक औसत RBC में औसत हीमोग्लोबिन की मात्रा होती है.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें