Breaking

बुधवार, 9 जून 2021

रामायण डायलॉग - Ramayan Dialogue Ramnand Sagar 16

Ramayan Dialogue Status । रामायण डायलॉग 16

"वैभव शक्ति सम्पत्ति के मोह में आकर जो स्त्री अपना पतिव्रत धर्म भूल जाए
उससे अधर्म और कोई नहीं हो सकता
मेरे लिए वो बनवासी वीर ही तीनों लोकों की सम्पत्ति से अधिक मूल्यवान हैं
उस महान पुरुष सिंह के सामने तुम मुझे एक कायर तुच्छ श्रिंघा लगते हो
जो चोरों की भाँति आकर एक असहाये अबला को छल से उठा ले गए
धिक्कार है तुम पर तुम्हारे ऐश्वर्य वैभव पर तुम्हें जनम देने वाली माता पर
तुम्हारे पूर्वजों पर तुम्हारे कुल पर धिक्कार है
एक बार नहीं हज़ार बार धिक्कार है"
Ramayan Dialogue 16
"vaibhav shakti sampatti ke moh mein aakar jo stree apana pativrat dharm bhool jae
usase adharm aur koee nahin ho sakata
mere lie vo banavaasee veer hee teenon lokon kee sampatti se adhik moolyavaan hain
us mahaan purush sinh ke saamane tum mujhe ek kaayar tuchchh shringha lagate ho
jo choron kee bhaanti aakar ek asahaaye abala ko chhal se utha le gae
dhikkaar hai tum par tumhaare aishvary vaibhav par tumhen janam dene vaalee maata par
tumhaare poorvajon par tumhaare kul par dhikkaar hai
ek baar nahin hazaar baar dhikkaar hai"
Ramayan Dialogue Status is a series of Dialogue Clips from Ramanand Sagar's Ramayan.

Spoken by actors portraying Sri Ram, Sita Ma, Hanuman ji, Lakshman , Bharat, Ravan, Meghnad, Kumbhkaran among others, these Ramayan Dialogues are like life lessons for everyone to learn from


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें