Breaking

बुधवार, 31 मार्च 2021

श्री कृष्णा डायलॉग | Shree Krishna Dialogue 20

Shree Krishna Dialogue Status 20। श्री कृष्ण डायलॉग l श्री कृष्ण


"जब आँखों से माया का पर्दा हट जाएगा तो इस बात का ज्ञान होगा
के अलग अलग पत्रों का अलग अलग रूप धरके
भगवान स्वयं ही ये लीला कर रहे हैं स्वयं ही पिता हैं स्वयं ही पुत्र
स्वयं ही मित्र हैं स्वयं ही शत्रु जब इस चरम सत्य की अनुभूति हो जाती है
तो प्राणी दुःख और सुख की सीमाओं से आगे निकल जाता है
फिर उसे ये मिलना ये बिछड़ना ये संजोग ये वियोग ये मित्रता ये शत्रुता
सब कुछ एक खेल सा लगने लगता है।"
श्री कृष्णा डायलॉग | Shree Krishna Dialogue 20
"jab aankhon se maaya ka parda hat jaega to is baat ka gyaan hoga
 ke alag alag patron ka alag alag roop dharake
bhagavaan svayan hee ye leela kar rahe hain svayan hee pita hain svayan hee putr 
svayan hee mitr hain svayan hee shatru jab is charam saty kee anubhooti ho jaatee hai 
to praanee duhkh aur sukh kee seemaon se aage nikal jaata hai
phir use ye milana ye bichhadana ye sanjog ye viyog ye mitrata ye shatruta 
sab kuchh ek khel sa lagane lagata hai."

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें