Breaking

सोमवार, 18 जनवरी 2021

Mahbharat Abhimnyu Song Lyrics | ढ़ाल थी तलवार थी

Abhimanyu Sad Song Lyrics - Mahbharat Abhimnyu Song Lyrics

ढ़ाल थी तलवार थी वीर की ललकार थी
ज्वाला थी त्रिपात रक्त की 
हुंकार थी यह शत्र की 
महशक्ति वीर वो बनके वीरो से लड़ा
हार के भी जीत गया ऐसा था वो योद्धा 
अभिमन्यु…. अभिमन्यु….
Mahbharat Abhimnyu
Dhaal thi talwar thi veer ki lalkaar thi
Jwala thi tripat rakt ki
Hunkaar thi yeh shatra ki
Mahshkti veer wo banke veero se lada
Haar ke bhi jeet gaya aisa tha wo yodha
Abhimanyu…. Abhimanyu….


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें