Breaking

रविवार, 31 जुलाई 2022

श्रीगणेश आरती | विघ्नहर्ता गणेश - Ganesh Aarti - शेंदुर लाल चढ़ायो

 शेंदुर लाल चढ़ायो | श्रीगणेश आरती | विघ्नहर्ता गणेश - Ganesh aarti from Vignharta Ganesh 

श्री गणपति जी की आरती- शेंदुर लाल चढ़ायो अच्छा गजमुखको - Shendur Laal Chadhaayo Achchhaa Gajamukha Ko Dondil Laal Biraaje Sut Gaurii Har Ko Hath Liye Gud Laddu Saaii Survar Ko
Mahimaa Kahe Na Jaay Laagat Huun Pad Ko Jai Dev Jai Dev

Ganesh aarti from Vignharta Ganesh

Shendur Lal Chadhayo Achchha Gajmukhko Lyrics - Ganesh Aarti

जय देव जय देव जय देव जय देव 
जय देव जय देव जय देव जय देव 

स‍िंदूर लाल चढ़ायो अच्छा गजमुखको।
दोंदिल लाल बिराजे सुत गौरिहरको।

हाथ लिए गुडलद्दु सांई सुरवरको।
महिमा कहे न जाय लागत हूं पादको 
जय देव जय देव जय देव जय देव 

जय जय श्री गणराज विद्या सुखदाता।
धन्य तुम्हारा दर्शन मेरा मन रमता 
जय देव जय देव जय देव जय देव 

अष्टौ सिद्धि दासी संकटको बैरि।
विघ्नविनाशन मंगल मूरत अधिकारी।

कोटीसूरजप्रकाश ऐबी छबि तेरी।
गंडस्थलमदमस्तक झूले शशिबिहारि
जय देव जय देव जय देव जय देव 
 
जय जय श्री गणराज विद्या सुखदाता।
धन्य तुम्हारा दर्शन मेरा मन रमता ॥
जय देव जय देव जय देव जय देव 

भावभगत से कोई शरणागत आवे।
संतत संपत सबही भरपूर पावे।

ऐसे तुम महाराज मोको अति भावे।
गोसावीनंदन निशिदिन गुन गावे 
 जय देव जय देव जय देव जय देव 

जय जय श्री गणराज विद्या सुखदाता।
धन्य तुम्हारा दर्शन मेरा मन रमता
जय देव जय देव जय देव जय देव 

Shendur Lal Chadhayo Achchha Gajmukhko - Ganesh Aarti | Ganpati Songs | Sindur Lal Chadayo



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें