Breaking

शुक्रवार, 11 जून 2021

आखिर क्यों मनाया जाता है दशहरा का पर्व | Dussehra festival

रावण वध - आखिर क्यों मनाया जाता है दशहरा का पर्व - विजया दशमी 2020


दशहरे के दिन हम तीन पुतलों को जलाकर बरसों से चली आ रही परपंरा को तो निभा देते हैं लेकिन हम अपने मन से झूठ, कपट और छल को नही निकाल पाते. हमें दशहरे के असली संदेश को अपने जीवन में भी अमल में लाना होगा तभी यह त्यौहार सार्थक बन पाएगा.



रामायण हमें यह सीख देती है कि चाहे असत्य और बुरी ताकतें कितनी भी ज्यादा हो जाएं पर अच्छाई के सामने उनका वजूद एक ना एक दिन मिट ही जाता है. अंधकार के इस मार से मानव ही नहीं भगवान भी पीड़ित हो चुके हैं लेकिन सच और अच्छाई ने हमेशा सही व्यक्ति का साथ दिया है|

इस दिन प्रभु राम ने रावण पर जीत हासिल कर धर्म की रक्षा की थी। हर इंसान में कोई न कोई कमी जरूर होती है। उनके लिए यह दिन बहुत महत्वपूर्ण है, वे विजयदशमी के दिन अपनी बुराइयों को छोड़ने का प्रण कर सकते हैं।





कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें